आ बेबी मेरी नचले ना – O Baby Mere Naal Nachle Na (Dil Juunglee)



फ़िल्म: दिल जंगली (2018)
संगीतकार: गुरु रंधावा, रजत नागपाल
गीतकार: गुरु रंधावा
गायक/गायिका: गुरु रंधावा, नीति मोहन


ओ ब्राउन तेरे बालां दा कलर सोणिये
हवा विच जांदे ने खिलर सोणिये
चढ़ गी तू जैसे हाए मिलर सोणिये
प्लीज़ मैनु तक ले ना
आ सोहनी कुड़ी नचले ना
आ बेबी मेरी नचले ना
आ मेरे नाल नचले ना
आ सोहनी कुड़ी…

स्लोली स्लोली पी सोणिये
हो जाएगी टल्ली
शॉट्स लगा के हॉट तू लगदी
देख के दिल हुआ जंगली
आ नॉटी नॉटी मारदी आए अंख सोणिये
सारेया नू पह गेया शक़ सोणिये
हाण दे आ मुंडेया तो बच सोणिये
तेनु कोई चक ले ना
आ सोहनी कुड़ी…

ऊंची मेरी हील सोणेया
टिक टोक करदी जावे
लाखां दा पर्फ्यूम हाए मेरा
मुंडेया नू तड़पावे
हाए ज़ुल्फां दे तेरे हाए पफ सोणिये
मुण्डेया ने ला लेने कश सोणिये
आ तोड़ दित्ते बोतलां दे कड सोणिये
नज़र भर तक ले ना
आ सोहनी कुड़ी…

नज़र भर तक लांगी
आ दिल तेरा रख लांगी
मैं तेरे नाल नच लांगी
आ सोहनी कुड़ी…

Advertisements

दिल जाने ना – Dil Jaane Na (Dil Juunglee)


फ़िल्म: दिल जंगली (2018)
संगीतकार: अभिषेक अरोड़ा
गीतकार: अभिरुचि चंद
गायक/गायिका: मोहित चौहान, नीति मोहन


पहले भी तो हसीं, मौसम ये थे सभी
फिर क्यूं लगे
थोड़ी सी थी कहीं, इनमें कोई कमी
फिर क्यूं लगे
रस्ते संग संग काटे थे
जो लम्हे आधे बांटे थे
तेरी नादानियां गुस्ताखियां, दिल जाने ना
कैसी बेचैनियां बेईमानियां, दिल जाने ना
दिल जाने ना…

कैसा ये असर हो रहा, पास जो तू चल रहा
हां पागलों सी हरक़तें, ये दिल तुझे देख के कर रहा
हां तेरे बिन अच्छे थे हम, खुशियां थीं न थे ग़म
हुआ क्यूं हाल ऐसा ये, अजब साथ कैसा ये
जाने सवाल कैसा ये
दिल जाने ना..

भूली सी वो धुन
ये दिल मेरा क्यूं गा रहा
बीती जो बातें फिर से क्यूं
ये दोहरा रहा
दिल जाने ना…

चल वे तू बंदेया उस गलिए – Chal Ve Tu Bandeya (Dil Juunglee)



फ़िल्म: दिल जंगली (2018)
संगीतकार: शारिब-तोशी
गीतकार: देवेंद्र काफिर
गायक/गायिका: अरिजीत सिंह


चल, चल वे तू बंदेया उस गलिए
जहां कोई किसी को ना जाने
क्या रहना वहां पर सुण बंदेया
जहां अपने ही ना पहचाने
रह गये हैं जो तुझमें
मेरे लम्हें लौटा दे
मेरी आंखों में आ के
मुझे थोड़ा रुला दे
चल, चल वे तू बंदेया…

ख्वाब जो हुए हैं खंडर
ख्वाब ही नहीं थे
इक नींद थी नींद सी हाये
खो दिया है तूने जिसको
तेरा ही नहीं था
इक हार थी जीत सी
कितना रुलाएगा ये तो बता
रब्बा वे तुझे है तेरे रब दा वास्ता
चल, चल वे तू बंदेया…