हो हम हो गए आप के – Hum Ho Gaye Aaap Ke Titile Song


फ़िल्म: हम हो गये आपके (2001)
संगीतकार: नदीम-श्रवण
गीतकार: समीर
गायक/गायिका: अल्का याग्निक, कुमार सानू


क्यों बेख़ुदी सी छाई है
क्यों आग सी लगाई है आपने
ओ हम हो गए आप के
मेरा होश भी उड़ाया है
मेरी नींद भी चुराई है आपने
हो हम हो गए आप के…

पहले ऐसे कभी दिल धड़कता न था
बेवजह इस तरह से ये तड़पता न था
दर्द ऐसा कभी भी मुझको होता न था
हर घड़ी यूं मेरा चैन खोता ना था
मेरी जान पे बन आई है
हालत ये क्या बनाई है आपने
हो हम हो गए…

चोरी-चोरी मचलने से क्या फायदा
राज़-ए-दिल खोल देने का अपना मज़ा
मुझको है मेरी इन धड़कनों की कसम
आपको भी है मुझसे मोहब्बत सनम
इसमें नहीं बुराई है
ये बात क्यों छुपाई है आपने
हो हम हो गए…

Advertisements

मैं बेवफ़ा, मैं बेक़दर – Main Bewafa Main Beqadar (Pyar Ishq Aur Mohabbat)


फ़िल्म: प्यार इश्क़ और मोहब्बत (2001)
संगीतकार: विजू शाह
गीतकार: आनंद बक्षी
गायक/गायिका: कुमार सानू


मैं बेवफ़ा, मैं बेक़दर
मैंने तेरा दिल तोड़ा
मेरा भी दिल टूटा मगर
तुझको नहीं इसकी ख़बर
तेरी याद में दिल थाम कर
तड़पूंगा मैं सारी उमर
मैं बेवफ़ा, मैं बेक़दर..

दुनिया के सब आशिक़ों की
तोड़ी है सब मैंने रस्में
बेचे हैं सब अपने वादे
बेची हैं सब अपनी कसमें
मैं बेवफा, मैं बेक़दर…

ये प्यार इश्क़ और मोहब्बत
क्या है ये अब मैंने जाना
वापस मगर कैसे आये
गुज़रा हुआ वो ज़माना
मैं बेवफ़ा, मैं बेक़दर…

देर से हुआ, पर प्यार तो हुआ रे – Der Se Hua (Hum Ho gaye Aapke)


फ़िल्म: हम हो गये आपके (2001)
संगीतकार: नदीम-श्रवण
गीतकार: समीर
गायक/गायिका: कुमार सानू, अल्का याग्निक


देर से हुआ, पर प्यार तो हुआ रे
ओ दिलरुबा, तूने दिल ले लिया रे हो
देर से हुआ…

क्या है मोहब्बत ये मुझको बताया
इन धड़कनों को धड़कना सिखाया
बेचैनियां दी मेरे प्यासे दिन को
रातों को तूने तड़पना सिखाया
मुश्किल बड़ा इंतज़ार हुआ रे
ओ दिलरुबा तूने…

आंखों से नींदें चुराता नहीं था
दर्द-ए-जिगर को बढ़ाता नहीं था
तनहा अकेली थी ये ज़िन्दगानी
कोई ख्यालों में आता नहीं था
ये हाल तो पहली बार हुआ रे
ओ दिलरुबा तूने…

मेरे ख्यालों में आवारगी थी
चाहत में ना कोई दीवानगी थी
कागज़ के फूलों में खुशबू नहीं थी
वीराना ख़्वाबों सी ये ज़िन्दगी थी
मुझको तेरा ऐतबार हुआ रे
ओ दिलरुबा तूने…

आपके आने से हम खुश हुए – Hum Khush Hue (Ek Rishta)


फ़िल्म: एक रिश्ता (2001)
संगीतकार: नदीम-श्रवण
गीतकार: समीर
गायक/गायिका: कुमार सानू, अल्का याग्निक, सारिका कपूर, मो. अज़ीज़


आपके आने से घर में कितनी रौनक है
आपको देखें कभी अपने घर को देखें हम
आपके आने से…
हम खुश हुए, हम खुश हुए, हम खुश हुए
हम खुश हुए, हम खुश हुए, हम खुश हुए

कितनी सूनी-सूनी थी वो मेरी रातें
कितने सूने-सूने थे दिन
कैसे मैं बताऊं कैसे हैं गुज़ारे
मैंने वो जुदाई के दिन
तेरे लौट आने से, घर में कितनी रौनक है
आपको देखें कभी…

तूने जो बुलाया, मैं तो चली आई
खोयी ज़िन्दगी मिल गई
ऐसा लगता है, साथी तुझे पा के
मुझको हर ख़ुशी मिल गई
फ़ासले मिटाने से, घर में कितनी रौनक है
आपको देखें कभी…

आंखों में ख़ुशी के आंसू भर आये
रोके न रुके बह गए
बोलूं मैं क्या बोलूं कहना जो मुझे था
आंसू मेरे वो कह गए
देखो मुस्कुराने से, घर में कितनी रौनक है
आपको देखें कभी…

मेरा दिल इक खाली कमरा – Mera Dil Ek Khali Kamra (Yeh Raaste Hain Pyaar Ke)


फ़िल्म: ये रास्ते हैं प्यार के (2001)
संगीतकार: संजीव-दर्शन
गीतकार: आनंद बक्षी
गायक/गायिका: कुमार सानू, अनुराधा पौडवाल


मेरा दिल इक खाली कमरा
कमरे में कोई रहने लगा
ये सारा ज़माना कहने लगा
कमरे में कोई रहने लगा
इस चोर को घर से निकालो
मैंने कहा ज़ोर लगा लो
अरे ये नहीं जायेगा
चला गया तो फिर वापस नहीं आएगा
मेरा दिल इक खाली कमरा…

बचपन की कोई कहानी है
या इसका नाम जवानी है
ये हाल ना जाने कब से है
पहले से था या अब से है
कोई इससे कुछ मत कहना
ये मेरी गुज़ारिश सबसे है
सुन लो ओ दुनिया वालों
तुम चाहे शोर मचा लो
अरे ये नहीं जायेगा…

एक दिल बोले ये अपना है
एक दिल बोले नहीं सपना है
सारा दिन दिल धड़काता है
फिर सारी रात जगाता है
गुस्सा आता है बहुत मगर
थोड़ा-सा प्यार भी आता है
कोई बोले दिल दे डालो
कोई बोले जान छुड़ा लो
अरे ये नहीं जायेगा…

ये चोर नहीं है मोर है ये
ये मोर नहीं कोई और है ये
खाली पिंजरा रह जायेगा
ये पंछी तो उड़ जायेगा
ये भूला भटका राही है
किसी मोड़ से ये मुड़ जायेगा
चलो मुझसे शर्त लगा लो
कोरे कागज़ पे लिखवा लो
अरे ये नहीं जायेगा…