सजना साथ निभाना – Sajna Saath Nibhana (Doli)


फ़िल्म/एल्बम: डोली (1969)
संगीतकार: रवि
गीतकार: राजिंदर कृष्ण
गायक/गायिका: आशा भोंसले, मो.रफ़ी


सजना साथ निभाना, सजना साथ निभाना
साथी मेरी बहारों के राह में छोड़ न जाना
सजना साथ निभाना…

आ के चला जाए ज़माना जो बहार का
फूल मुरझाये ना तेरे-मेरे प्यार का
आज के वादे सजना
आज की बातें सजना
भूल न जाना
सजना साथ निभाना…

वैसे तो हजारों नज़ारे मेरी राह में
एक बस तू ही समाया है निगाहों में
प्यार की रस्में सजना
प्यार की कसमें सजना
भूल न जाना…

किसने साथ निभाया, किसने साथ निभाया
दिल को एक खिलौना समझा
खेला और ठुकराया
किसने साथ निभाया…

कहां के ये वादे, ये कसमें कहां की
कहां है वो दुनिया, ये बातें हैं जहां की
झूठी नगरी, झूठे जोगी
प्रीत भी सच्ची कैसे होगी
अच्छा ढोंग रचाया
किसने साथ निभाया…

Advertisements

सौ बरस की ज़िन्दगी से अच्छे हैं – Sau Baras Ki Zindagi Se (Sachchaai)


फ़िल्म/एल्बम: सच्चाई (1969)
संगीतकार: शंकर जयकिशन
गीतकार: राजिंदर कृषण
गायक/गायिका: आशा भोंसले, मो.रफ़ी


सौ बरस की ज़िन्दगी से अच्छे हैं
प्यार के दो चार दिन
ज़िन्दगी की हर ख़ुशी से अच्छे हैं
प्यार के दो चार दिन

प्यार ही से ये ज़मीं है, प्यार ही से आसमां
प्यार का लेकर सहारा, चल रहा है ये जहां
प्यार शबनम, प्यार शोला
प्यार ही बाद-ए-सबा
फूल कलियां चांद तारे
सब मोहब्बत के निशां
सौ बरस की ज़िन्दगी से…

ये मुहब्बत दो दिलों का, खूबसूरत राज़ है
दिल की धड़कन जिसकी सरगम, है यही वो ताज़ है
चाहे भंवरे का हो नगमा
या पपीहे की सदा
प्यार कहते हैं जिसे हम
एक ही आवाज़ है
सौ बरस की ज़िन्दगी से…

किसको प्यार करूं – Kisko Pyar Karoon (Tumse Achcha Kaun Hai)


फ़िल्म/एल्बम: तुमसे अच्छा कौन है (1969)
संगीतकार: शंकर-जयकिशन
गीतकार: राजेंद्र कृष्ण
गायक/गायिका: मो.रफ़ी


किस किस-किस
किसको प्यार करूं
कैसे प्यार करूं
तू भी है, ये भी है
वो भी है, हाय!
किसको प्यार करूं…

मेरे लिए तो हो गयी मुश्किल
कैसे बांटूं एक मेरा दिल
किसको प्यार करूं…

देखूं जिधर मैं, शोले ही शोले
दिल है आखिर, कैसे न डोले हाय
किसको प्यार करूं…

इक-इक सूरत, प्यार की मूरत
सबको लेकिन, मेरी ज़ुरूरत
किसको प्यार करूं…