मेरी जां, मुझे जां न कहो – Meri Jaan Mujhe Jaan Na Kaho (Anubhav)


फ़िल्म: अनुभव (1971)
संगीतकार: कनु रॉय
गीतकार: गुलज़ार
गायक/गायिका: गीता दत्त


मेरी जां, मुझे जां न कहो
मेरी जां
मेरी जां, मेरी जां

जां न कहो अंजान मुझे
जान कहां रहती है सदा
अंजाने, क्या जाने
जान के जाए कौन भला
मेरी जां
मुझे जां न कहो मेरी जां…

सूखे सावन बरस गए
कितनी बार इन आंखों से
दो बूंदें ना बरसे
इन भीगी पलकों से
मेरी जां
मुझे जां न कहो मेरी जां…

होंठ झुके जब होंठों पर
सांस उलझी हो सांसों में
दो जुड़वां होंठों की
बात कहो आंखों से
मेरी जां
मुझे जां न कहो मेरी जां…

Advertisements

Leave a comment

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.