चम चम चम चम चमकती शाम है – Chamakti Shaam Hai (Yaadein)


फ़िल्म: यादें (2001)
संगीतकार: अनु मलिक
गीतकार: आनंद बक्षी
गायक/गायिका: अल्का याग्निक, सोनू निगम


एक बार कहीं दिल लग जाये
फिर यार कहीं दिल नहीं लगदा
ये दुनिया दिल को डराती है
दिल तो रब से भी नहीं डरदा
ओये बेबी ओये बेबी
ओये होए ओये होए

चम चम चम चम चमकती शाम है
छल छल छल छल छलकता जाम है
ज़िन्दगी प्यार का दूसरा नाम है
दिल का पैगाम है ओ बेबी
छन छन छन छन छनकती चूड़ियां
गल गल गल गल ऐ गल्ला गूड़ियां

उइया उइया उइया
धूप ही धूप है ना ही छैयां
प्यार के रस्ते भूल-भुलैया
भूल-भुलैया में तो सैयां
थाम लिया करते हैं बैयां
उइया उइया उइया
ओ दिल के दरवाज़े पा आ के, दस्तक दे ना जाये कोई
जाते-जाते साथ में अपने, तुझको ले ना जाये कोई
वो भी क्या लोग थे नाम जो कर गए
प्यार में वो जीये, प्यार में मर गए, ओये बेबी
धम धम धम धम धमाका प्यार का
तक तक तक तक तमाशा यार का

ओढ़ी प्रेम चुनरिया जिसने
प्यार का रंग कभी ना छूटा
ओ पागल प्रेमी प्यार न छोड़े
जाने कितनों का दिल टूटा
हो देखो हार तुम्हारी होगी, सुन लो जीत हमारी होगी
माना हार हमारी होगी, पर वो जीत से प्यारी होगी
आ गए आज हम, आमने-सामने
अपना दिल थाम ले, ओये बेबी
डगमग डगमग डगमग सी तुम्हारी चाल है
तकधीन तकधीन तकधीन तक तुम्हारी ताल है
जोगियों ने कहा, आशिकों ने किया
दिल दिया दिल लिया ओ बेबी
चम चम चम चमकती शाम…

Advertisements

Leave a comment

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.