All Songs of Raid (2018)


All Songs of Raid (2018)


झुक ना पाऊंगा – Jhuk Na Paunga

फ़िल्म: रेड (2018)
संगीतकार: अमित त्रिवेदी
गीतकार: इंद्रनील
गायक/गायिका: पपॉन

मर भी गया अगर, मरने का गम नहीं
देख ज़रा मेरा हौंसला
मुझको डरा सके, तुझमें वो दम नहीं
सुन ले जहां मेरा फैसला
ओ झुक ना पाऊंगा भले मिट जाऊंगा
झुक ना पाऊंगा भले मिट जाऊंगा

जब तक मेरी रग में लहू की धार है
तब तक तेरा हर बेअसर हथियार है
माना की परछाई भी हुई है जुदा
मगर मेरे साथ है मेरा खुदा
तिनके ज़मीर के इतने भी कम नहीं
बुन ना सके फिर से घोंसला
मुझको डरा सके…

तूफ़ान में जलती हुई शम्मा हूं मैं
जो वक़्त से भिड़ जाए वो लम्हां हूं मैं


ब्लैक जमा है – Black Jama Hai

फ़िल्म: रेड (2018)
संगीतकार: अमित त्रिवेदी
गीतकार: इंद्रनील
गायक/गायिका: सुखविंदर सिंह

ब्लैक, ब्लैक, ब्लैक
चीर के दीवारें कुरेद के किवाड़ें
खोद के निकाले गड़ा है जो
है तिजोरियों में या बंद बोरियों में
ख़ुफ़िया कहीं पे पड़ा है जो
बतलाता है काले धंधों का पारा, पारा
खज़ाना तेरा ये सारे का सारा सारा, सारा…

है ब्लैक, जमा है ब्लैक
जमा है ब्लैक, जमा है
जो रसीद के बिना है, ब्लैक
जमा है ब्लैक, जमा है ब्लैक
जमा है
हक़ से तेरे सौ गुना है

हराम से कमाया है
चुराया है, चुराया है, चुराया है
अवाम की निगाह से
छुपाके के जो, जमाया है, जमाया है..
साम दाम दंड भेद
मुझको ना किसी का खेद
चु रहा है मुल्क ये
जिधर से है तू ही वो छेद…

देर से सही पर दुरुस्त है ये छापा
बन के तमाचा पड़ा है जो
हर किये धरे का हिसाब मांगता है
बही किताब ले के खड़ा है जो
बतलाता है काले धंधों का पारा, पारा
खजाना तेरा ये सारे का सारा, सारा सारा
है ब्लैक…


नित खैर मंगा – Nit Khair Manga

फ़िल्म: रेड (2018)
संगीतकार: तनिष्क बागची
गीतकार: मनोज मुंतशिर
गायक/गायिका: राहत फतेह अली खान

नित खैर मंगा
नित खैर मंगा सोह्णेया मैं तेरी
दुआ ना कोई

अंख मेरी हंस देवे
जदों तेनु तक्क दा
जान तों वि ज्यादा तू
पास मैनू लगदा…

मेरे खाली हाथों को है
तोहफ़ा तू रब दा
तेरा जैसे होर कोई
हो ही नहीं सकदा
मेरे सजदों को साथी
इक तेरा दर काफी
खुदा ना कोई मैनू होर मंगदा
नित खैर मंगा
ओ नित खैर मंगा सोह्णेया मैं तेरी
दुआ ना कोई होर मंगदा
दुआ ना कोई होर मंगदा
नित खैर मंगा सोह्णेया मैं तेरी …

बिखरा हुआ था कांच के जैसा
छू लिया तूने तो मैं संवर गया
उम्र में उसको गिनता नहीं मैं
तेरे बिना जो वक़्त गुज़र गया
जचता नहीं है रंग होर कोई मैनू
जबसे मैं यारा तेरे रंग रंगदा
नित खैर मंगा…

नि सा रे सा रे नि सा रे
नि सा रे गा रे सा रे नि सा रे

ओ रे दिलजानिया जिन्द मेरी तुझसे
तेरे सहारे सांस है मेरी
बादल जैसा प्यार है तेरा
सागर जैसी प्यास है मेरी
चढ़ गई मैनू तेरे इश्क दी फ़कीरी
तेरी गलियों में मेरा दिल लगदा
नित खैर मंगा…


सानु इक पल चैन – Sanu Ek Pal Chain

फ़िल्म: रेड (2018)
संगीतकार: तनिष्क बागची
गीतकार मनोज मुंतशिर
गायक/गायिका: राहत फतेह अली खान

सानु इक पल..
सानु इक पल चैन ना आवे
सजणा तेरे बिना
दिल जाने क्यूं घबरावे
सजणा तेरे बिना…

ये दिन है प्यारे हिरिए
जो साथ हमने जी लिए
जाना नहीं मुंह मोड़ के
अंखियों में पानी छोड़ के
ये पानी आग लगावे
सजणा तेरे बिना…

तेरा ख्याल हर घड़ी
है आदतें मुझे तेरी
इक दिन जो तुझसे ना मिलूं
पागल के जैसा मैं फिरूं
कोई रुत ना मुझको भावे
सजणा तेरे बिना
सजणा रे, तेरे बिना…

Advertisements

Leave a comment

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.