आ जा रे आ ज़रा, लहरा के आ ज़रा – Aa Ja Re Aa Zara (Love In Tokyo)


फ़िल्म: लव इन टोकियो / Love In Tokyo (1966)
गायक/गायिका: मोहम्मद रफ़ी
संगीतकार: शंकर-जयकिशन
गीतकार: हसरत जयपुरी
अदाकार: आशा पारेख, जॉय मुखर्जी


ये ज़िंदगी की महफ़िल, महफ़िल में हम अकेले
दामन को कोई थामे, ज़ुल्फ़ों से कोई खेले

आ जा रे आ ज़रा, लहरा के आ ज़रा
आँखों से दिल में समा
आ जा रे आ ज़रा…

देख फ़िज़ा में रंग भरा है
मेरे जिगर का ज़ख़्म हरा है
सीने से मेरे सर को लगा दे
हाथों में तेरे दिल की दवा है
आ जा रे आ ज़रा…

तेरे भी दिल में आग लगी है
मेरे भी दिल में आग लगी है
दोनों तरफ़ है एक सी हालत
दोनों दिलों पर बिजली गिरी है
आ जा रे आ ज़रा…

दिल का सुलगाना किसको दिखाऊँ
साँसों के तूफ़ाँ कैसे छुपाऊँ
आँखें क्या क्या देख रहीं हैं
दिल पे जो गुज़री कैसे बताऊँ
आ जा रे आ ज़रा…

Advertisements

Leave a comment

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s