कौन आया कि निगाहों में चमक जाग उठी – Kaun Aaya Ki Nagahon Mein Chamak (Waqt)


फ़िल्म: वक्त / Waqt (1965)
गायक/गायिका: आशा भोंसले
संगीतकार: रवि
गीतकार: साहिर लुधियानवी
अदाकार: शशिकला, शशि कपूर, सुनील दत्त, बलराज साहनी, शर्मिला टैगोर, साधना, राज कुमार


कौन आया कि निगाहों में चमक जाग उठी
दिल के सोए हुए तारों में खनक जाग उठी – 2
कौन आया

किसके आने की ख़बर ले के हवाएँ आईं – 2
जिस्म के फूल चटकने की सदाएँ आईं – 2
ओ ओ ओ आ
(रूह खिलने लगी) – 2 साँसों में महक जाग उठी
दिल के सोए हुए…

किसने ये मेरी तरफ़ देख के बाँहें खोलीं – 2
शोख़ जज़्बात ने सीने में निगाहें खोलीं – 2
ओ ओ ओ आ
(होंठ तपने लगे) – 2 ज़ुल्फ़ों में लचक जाग उठी
दिल के सोए हुए…

किसके हाथों ने मेरे हाथों से कुछ माँगा है – 2
किसके ख़्वाबों ने मेरी रातों से कुछ माँगा है – 2
ओ ओ ओ आ
(साज़ बजने लगे) – 2 आँचल में खनक जाग उठी
दिल के सोए हुए…

Advertisements

Leave a comment

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s