आई मिलन की बेला – Songs of Ayee Milan Ki Bela (1964)


फ़िल्म: आई मिलन की बेला / Ayee Milan Ki Bela (1964)
गायक/गायिका: मोहम्मद रफ़ी, आशा भोंसले
संगीतकार: शंकर-जयकिशन
गीतकार: शैलेंद्र सिंह
अदाकार: शशिकला, धर्मेंद्र, सायरा बानो, राजेंद्र कुमार

आ हा आई मिलन की बेला देखो आई
बन के फूल हर कली मुस्कुराई
आ हा आई मिलन की बेला देखो आई
उनसे नैन मिले मैं शरमाई
आ हा आई मिलन की…

जाने क्यों तेज़ हुई जाती है दिल की धड़कन
चुटकियाँ लेती है क्यों सीने में मीठी सी चुभन
प्यार जो करते हैं होता है यही हाल उनका
देखिए क्या-क्या दिखाएगी अभी दिल की लगन
आ हा आई मिलन की…

आज दुनिया मुझे कुछ और नज़र आती है
जिस तरफ़ देखिए तक़दीर मुस्कुराती है
प्यार के रंग में रंग जाते हैं जब दिलवाले
देखते-देखते हर चीज़ बदल जाती है
आ हा आई मिलन की…

आज सर से मेरा आँचल क्यों उड़ा जाता है
मेरा दिल क्यों मेरे पहलू से खिंचा जाता है
मुन्तज़िर होगा कोई याद कर रहा होगा
दर्द सा उठता है जब याद किया जाता है
आ हा आई मिलन की…


फ़िल्म: आई मिलन की बेला / Ayee Milan Ki Bela (1964)
गायक/गायिका: मोहम्मद रफ़ी
संगीतकार: शंकर-जयकिशन
गीतकार: हसरत जयपुरी
अदाकार: शशिकला, धर्मेंद्र, सायरा बानो, राजेंद्र कुमार

मैं प्यार का दीवाना सबसे मुझे उल्फ़त है
हर फूल मेरा दिल है और दिल में मुहब्बत है
मैं प्यार का दीवाना…

घबरा के ख़िज़ाँ गुजरी और दौर नया आया
इन्सान के जीवन में इक रंग नया लाया
(सीने में नई हलचल) – 2 चेहरे पे भी रंगत है
मैं प्यार का दीवाना…

सुनता हूँ मैं लहरों से संगीत बहारों के
दम लेने को रुकता हूँ साये में चनारों के
(काँटे हों कि अंगारे) – 2 चलना मेरी आदत है
मैं प्यार का दीवाना…

तू क्या है मुझे एक दिन मिल जाए तो मैं जानूँ
और फूल मेरे दिल का खिल जाए तो मैं मानूँ
(जलवों का पुजारी हूँ) – 2 दीदार की हसरत है
मैं प्यार का दीवाना…


फ़िल्म: आई मिलन की बेला / Ayee Milan Ki Bela (1964)
गायक/गायिका: मोहम्मद रफ़ी, लता मंगेशकर
संगीतकार: शंकर-जयकिशन
गीतकार: शैलेंद्र सिंह
अदाकार: शशिकला, धर्मेंद्र, सायरा बानो, राजेंद्र कुमार

ओ सनम तेरे हो गए हम प्यार में तेरे खो गए हम
ज़िन्दगी को ऐ हमदम आ गया मुसकुराना
ओ सनम तेरे हो गए हम प्यार में तेरे खो गए हम
मिल गया मुझको ऐ सनम ज़िन्दगी का बहाना

दो भटकते राही आ मिले मंज़िल पर
दो दिलों की कश्ती आ लगी साहिल पर
मुकुराते जाएँ इक संग दो मुक़द्दर
ओ सनम तेरे हो गए…

रात चुप सुनती है ये हँसी अफ़साना
देखते हैं तारे बस गया वीराना
चाँद को शरमा दे आपका शरमाना
ओ सनम तेरे हो गए…

सूनेपन में अचानक कोई पंछी बोला
जाग कर सपने से दिल किसी का डोला
रात की रानी का किसने घूँघट खोला
ओ सनम तेरे हो गए…


फ़िल्म: आई मिलन की बेला / Ayee Milan Ki Bela (1964)
गायक/गायिका: मोहम्मद रफ़ी
संगीतकार: शंकर-जयकिशन
गीतकार: हसरत जयपुरी
अदाकार: शशिकला, धर्मेंद्र, सायरा बानो, राजेंद्र कुमार

प्यार आँखों से जताया तो बुरा मान गए
हाल-ए-दिल उनको सुनाया तो बुरा मान गए
प्यार आँखों से…

अपने गजरे के हर एक फूल की तारीफ़ सुनी – 2
ज़ख़्म-ए-दिल हमने दिखाया तो बुरा मान गए
प्यार आँखों से…

वो तो हर रोज़ रुलाते थे घटाओं की तरह – 2
हमने इक रोज़ रुलाया तो बुरा मान गए
प्यार आँखों से…

बेख़ुदी पर मेरी हँसते रहे शर्माते रहे – 2
अब ज़रा होश में आया तो बुरा मान गए
प्यार आँखों से…

सिर्फ़ इतनी सी ख़ता पर हमें दुश्मन जाना – 2
सर को क़दमों पे झुकाया तो बुरा मान गए
प्यार आँखों से…


फ़िल्म: आई मिलन की बेला / Ayee Milan Ki Bela (1964)
गायक/गायिका: मोहम्मद रफ़ी
संगीतकार: शंकर-जयकिशन
गीतकार: हसरत जयपुरी
अदाकार: राजेंद्र कुमार

तुम कम्सिन हो, नादाँ हो, नाज़ुक हो, भोली हो
सोचता हूँ मैं कि तुम्हें प्यार ना करूँ

मद्होश अदा ये अल्हड़पन
बचपन तो अभी बीता ही नहीं
एहसास है क्या और क्या है तड़प
इस सोच में दिल डूबा ही नहीं

तुम आहें भरो और शिकवे करो
ये बात हमें मंज़ूर नहीं
तुम तारे गिनो और नींद उड़े
वो रात हमें मंज़ूर नहीं


फ़िल्म: आई मिलन की बेला / Ayee Milan Ki Bela (1964)
गायक/गायिका: लता मंगेशकर
संगीतकार: शंकर-जयकिशन
गीतकार: हसरत जयपुरी
अदाकार: शशिकला, धर्मेंद्र, सायरा बानो, राजेंद्र कुमार

तुम्हें और क्या दूँ मैं दिल के सिवा
तुमको हमारी उमर लग जाए – 2
तुम्हें और क्या…

मुरादें हों पूरी सजे हर तमन्ना
मुहब्बत की दुनिया के तुम चाँद बनना
बहारों की मंज़िल पे हँसना-हँसाना
ख़ुशी में हमारी भी आवाज़ सुनना
कभी ज़िन्दगी में कोई ग़म न आए
तुमको हमारी उमर…

मुझे जो ख़ुशी है तुम्हें क्या बताऊँ
भला दिल की धड़कन को कैसे छुपाऊँ
कहीं हो न जाऊँ ख़ुशी से मैं पागल
तुम्हें देख कर और भी मुस्कराऊँ
ख़ुदा दिलजलों की नज़र से बचाए
तुमको हमारी उमर…

सितारों से ऊँचा हो रुतबा तुम्हारा
बनो तुम हर इक ज़िन्दगी का सहारा
तुम्हें जिससे उल्फ़त हो मिल जाए तुमको
समझ लो हमारी दुआ का इशारा
मुक़द्दर तुम्हारा सदा जगमगाए
तुमको हमारी उमर…

Advertisements

Leave a comment

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s