हुस्न चला कुछ ऐसी चाल – Husn Chala Kuchh Aisi Chaal (Bluff Master)

फ़िल्म: ब्लफ़ मास्टर / Bluff Master (1963)
गायक/गायिका: मोहम्मद रफ़ी, लता मंगेशकर
संगीतकार: कल्याणजी-आनंदजी
गीतकार: राजेंद्र कृष्ण
अदाकार: प्राण, सायरा बानो, शम्मी कपूर



हुस्न चला कुछ ऐसी चाल
दीवाने का पूछ ना हाल
प्यार की क़सम कमाल हो गया – 2
दिल को अब तक है इंकार
आँखें कर बैठीं इकरार
प्यार की क़सम कमाल हो गया – 2

हो ओ कभी पास आएँ कभी दूर जाएँ
के हैं दिल चुराने की लाखों अदाएँ
नहीं तीर निकला अभी तक कमाँ से
कोई उनसे कह दे कि दिल को बचाएँ – 2
कि दिल को बचाएँ
हुस्न चला कुछ…

कहाँ तक रहोगे ये दामन बचा के
के मुश्किल है बचना निशाने पे आ के
हमारा है क्या हम तो मिट के रहेंगे
जहाँ तुमने देखा ज़रा मुस्करा के – 2
ज़रा मुस्करा के
दिल को अब तक है…

हो ओ दिन हैं तुम्हारे ज़माना तुम्हारा
निगाहें इधर हैं इधर है इशारा
ये पैग़ाम देते हैं ज़ुल्फ़ों के साए
चला आए जो है मोहब्बत का मारा – 2
मोहब्बत का मारा
हुस्न चला कुछ…

Advertisements

Leave a comment

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s