दो पंछी दो तिनके कहो ले के चले हैं कहाँ – Do Panchhi Do Tinake

फ़िल्म – तपस्या (1975)
गायक/गायिका – किशोर कुमार, आरती मुखर्जी
संगीतकार – रविंद्र जैन
गीतकार – एम. जी. हश्मत
अदाकार – राखी, परीक्षित साहनी

दो पंछी दो तिनके कहो ले के चले हैं कहाँ
ये बनाएंगे एक आशियाँ – 2

ये तो अपनी ही धुन में गाएँ ऊँचे-ऊँचे उड़ते जाएँ
इनकी मस्ती को और बढ़ाएँ सावन की ये हवाएँ
मंज़िल के मतवाले देखो छूने चले आसमाँ
ये बनाएंगे एक …

एक फूलों भरी हो डाली और उस पर हो बसेरा
कुछ ऐसा ही मीठा-मीठा है सपना तेरा मेरा
ये सपना सच होगा कह रही धड़कनों की ज़ुबाँ
हम बनाएंगे एक आशियाँ – 2

Advertisements

Leave a comment

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s