अपने जीवन की उलझन को – Apne Jeewan Ki Uljhan Ko


फ़िल्म – उलझन (1975)
गायक/गायिका – किशोर कुमार, लता मंगेशकर
संगीतकार – कल्याणजी-आनंदजी
गीतकार – एम. जी. हश्मत
अदाकार – संजीव कुमार, सुलक्षणा पंडित

अपने जीवन की उलझन को कैसे मैं सुलझाऊँ – 2
अपनों ने जो दर्द दिए हैं कैसे मैं बतलाऊँ

प्यार के वादे हो गए झूठे ( वफ़ा के बंधन टूटे ) – 2
बनके जीवन-साथी कोई ( चैन मेरा क्यों लूटे ) – 2
ऐसे जीवन-साथी से मैं कैसे साथ निभाऊँ
अपने जीवन की …

कैसे-कैसे भेद छुपाएँ ( हाथों की रेखाएँ ) – 2
कोई ना जाने इस जीवन को ( ये किस ओर ले जाएँ ) – 2
पढ़ ना पाऊँ लेख विधि का पल-पल मैं घबराऊँ
अपने जीवन की …

दिल में ऐसा दर्द छुपा है ( मुझसे सहा ना जाए ) – 2
कहना तो चाहूँ अपनों से मैं ( फिर भी कहा ना जाए ) – 2

अपने जीवन की …

Advertisements

Leave a comment

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s