इक दिल के टुकड़े हज़ार हुए – Ek Dil Ke Tukde Hazar Hue

फ़िल्म – प्यार की जीत (1948)
गायक/गायिका – मोहम्मद रफ़ी
संगीतकार – हुस्नलाल-भगतराम
गीतकार – क़मर ज़लालाबादी
अदाकार –

इक दिल के टुकड़े हज़ार हुए – 2
कोई यहाँ गिरा कोई वहाँ गिरा – 2
बहते हुए आँसू रुक न सके – 2
कोई यहाँ गिरा …

जीवन के सफ़र में हम जिनको समझे थे हमारे साथी हैं – 2
दो क़दम चले फिर बिछड़ गए – 2
कोई यहाँ गिरा …

आशाओं के तिनके चुन-चुन कर सपनों का महल बनाया था – 2
तूफ़ान से तिनके बिखर गए – 2
कोई यहाँ गिरा …

Advertisements

Leave a comment

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s