दिल धड़के आँख मोरी फड़के – Dil Dhadke Ankh Mori Fadke

फ़िल्म – दर्द (1947)
गायक/गायिका – सुरैया
संगीतकार – नौशाद
गीतकार – शकील बदायूंनी
अदाकार – सुरैया

दिल धड़के आँख मोरी फड़के
चले जाना न देखो जी बिछड़ के
दिल धड़के …

कहीं बीते न दुःख में जवानी
कहीं सुन ले न दुनियाँ कहानी
कहीं बन जाऊँ मैं न दीवानी
दिल धड़के …

कहीं ठहरे न उल्फ़त का धारा
कहीं पा ले न कोई इशारा
कहीं टूटे न दिल क सहारा
दिल धड़के …

कहीं जाना न कर के बहाना
न बने दो दिलों का फ़साना
देखो नाज़ुक बहुत है ज़माना
दिल धड़के …

Advertisements

Leave a comment

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s