राम तेरी गंगा मैली हो गई – Ram Teri Ganga Maili Ho Gayi


फ़िल्म – राम तेरी गंगा मैली (1985)
गायक/गायिका – लता मंगेशकर
संगीतकार – रवींद्र जैन
गीतकार – रवींद्र जैन
अदाकार – राजीव कपूर, मंदाकिनी


सुनो तो गंगा ये क्या सुनाए
के मेरे तटपर जो लोग आए
जिन्होंने ऐसे नियम बनाए
के प्राण जाए पर वचन न जाए
गंगा हमारी कहे बात ये रोते रोते

राम तेरी गंगा मैली हो गई
पापियों के पाप धोते धोते

हम उस देश के वासी हैं जिस देश मे गंगा बहती
ऋषियों के संग रहनेवाली पतितों के संग रहती
ना तो होठों पे सच्चाई नही दिल में सफ़ाई
करके गंगा को खराब देते गंगा की दुहाई
करे क्या बिचारी इसे अपने ही लोग डुबोते …

राम तेरी गंगा मैली हो गई
पापियों के पाप धोते धोते

वही है धरती वही है गंगा बदले है गंगावासी
सबके हाथ लहू से रंगे हैं मुख उजले मन काले
दिये वचन भुला के झूठी सौगंध खाके
अपनी आत्मा गिरा के चलें सर को उठाके
अब तो ये पापी गंगा जलसे भी शुद्ध न होते …

राम तेरी गंगा मैली हो गई
पापियों के पाप धोते धोते

Advertisements

One comment on “राम तेरी गंगा मैली हो गई – Ram Teri Ganga Maili Ho Gayi

  1. डां कन्हैया लाल गुप्त कहते हैं:

    राम तेरी गंगा मैली के सभी गाने बेहतरीन है।

    Like

Leave a comment

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s